गुजरात २०१९ चुनाव शेड्यूल और रिजल्ट

एग्जिट पोल अपडेट

चुनाव के ख़तम होने के एक घंटे के भीतर ही सभी बड़ी न्यूज चेनल्स के एग्जिट पोल्स बहार आये हैं. और गुजरात की २६ सीटों में से कम से कम २५ पर बीजेपी की आसान जित का अनुमान ऑलमोस्ट हरेक न्यूज चेनल कर रही हैं. चुनिंदा चेनल्स के सर्वे के मुताबिक़ केवल आनंद सिट जिसके ऊपर कोंग्रेस के वरिष्ठ नेता भारतभाई सोलंकी लड़ रहे हैं बीजेपी के मितेशभाई पटेल के सामने वो कोंग्रेस के पास जा सकती हैं.

गौरतलब हैं की ये बैठक पर पहले भी भरतभाई सोलंकी ने दो बार चुनाव जीते हैं. लेकिन २०१४ की मोदी सुनामी में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के दिलीपभाई पटेल के सामने हार के ये बैठक गंवा दी थी.

नरेन्द्र मोदी की जन्मभूमि और कर्मभूमि दोनों ही गुजरात हैं. और अमित शाह का भी. तो माननीय प्रधानमंत्री और बीजेपी के अध्यक्ष श्री को जिस स्टेट से सब से ज्यादा उम्मीदें हैं वो भी जाहिर हैं की यही स्टेट होगा. पिछले लोकसभा चुनावों में यहाँ की सभी २६ सीटों के ऊपर मोदी लहर का झंडा लहराया था. कोंग्रेस या किसी और भी दल ने यहाँ बीजेपी को एक भी सिट हराने की ताकत नहीं जुटाई थी.

क्या बदले हैं गुजरात के हालात?

पर पिछले कुछ सालों में जिग्नेश मेवानी, अल्पेश ठाकोर और हार्दिक पटेल की जवान तिकड़ी ने बीजेपी के लिए मुश्किल जरुर खड़ी की हैं. हार्दिक पटेल ने पटेल अनामत की मांग के साथ काफी आन्दोलन किये जिसमे १४ पटेल युवान मरे भी और करोड़ो की पब्लिक सम्पति को नुकशान हुआ.

जिग्नेश मेवानी दलित समर्थन की लहर में २०१७ के विधानसभा इलेक्शन निर्दलीय लड़ के जीते और अब वो गुजरात विधानसभा में एमएलए हैं. अल्पेश ठाकोर ने कोंग्रेस की टिकट पर चुनाव जीता (हालांकि अब वो कोंग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे चुके हैं!) और २०१७ के चुनावों में बीजेपी के लिए जित की राह उतनी आसान नहीं थी.

पिछले दो दशक के समय से यहाँ बीजेपी को स्टेट की सत्ता से दूर नहीं कर सकी हैं कोंग्रेस. और शायद लोकसभा चुनावों में भी वो उतनी दाल न गला सकें. फिर भी इस बार कोंग्रेस को भरोसा हैं की वो आणंद और महेसाणा एरिया की कुछ सीटें जरुर जीतेंगी. आणंद सिट पर कोंग्रेस के भरतभाई सोलंकी चुनाव लड़ रहे हैं जिनकी यहाँ क्षत्रिय बेल्ट में काफी पकड हैं. लेकिन वो बीजेपी के दिलीपभाई पटेल से २०१४ के इलेक्शन हार गए थे.

मेहसाणा पटेल आन्दोलन का केंद्र रहा हैं और वो हार्दिक पटेल के समर्थको का भी केंद्र हैं. यहाँ पटेल आन्दोलन के समय भारी मात्रा में समर्थन मिला था हार्दिक को. शायद यही वजह हैं की कोंग्रेस को लगता हैं की वो इन जगहों पर जित पायेगी. साथ में कोंग्रेस के खजानची अहमद पटेल ने भी बताया हैं की इस बार भरूच सिट पर भी पंजे की पकड होगी.

चलिए वो देखते हैं २३ मई को जब लोकसभा चुनाव के रिजल्ट अनाउंस होंगे. शेड्यूल वाइज़ देखें तो गुजरात की सभी सीटों पर एक ही फेज में मतदान होगा. यहाँ २३ अप्रेल को थर्ड फेज में मत डाले जायेंगे.

फेज सीटें मतदान की तारीख
खेड़ा, आणंद, अमरेली, बनासकांठा, साबरकांठा, पाटन, जूनागढ़, दाहोद, बारडोली, सुरेंद्रनगर, जामनगर, पोरबंदर, भरूच, गांधीनगर, अहमदाबाद पूर्व, अहमदाबाद पश्चिम, राजकोट, भावनगर, कच्छ, पंचमहल, वडोदरा, छोटा उदयपुर, सूरत, नवसारी, वलसाड, मेहसाणा २३ अप्रेल

कैसा था २०१४ चुनाव गुजरात में?

जैसे की हमने आप को बताया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के होम स्टेट गुजरात में बीजेपी का भगवा १००% कामियाब रहा था. और यहाँ २०१४ के लोकसभा चुनावों में सभी सीटों के ऊपर भाजपा के कैंडिडेट ही जीते थे. यहाँ तक की कोंग्रेस की अच्छे पकड वाले एरिया जैसे की आणंद वगेरह में भी कोंग्रेस अपना गढ़ बचा नहीं सकी थी.

यदि वोट शेयर की बात करें तो कोंग्रेस को ३२.९% वोट मिले थे जो की बीजेपी के ५९.१% के मुकाबले में बेहद ही कम हैं. ऑलमोस्ट डबल वोट प्रतिशत था यहाँ बीजेपी का कोंग्रेस के सामने .

सिट जितनेवाले कैंडिडेट पार्टी
खेड़ा देवूसिंह चौहान बीजेपी
आणंद दिलीप पटेल बीजेपी
अमरेली नारणभाई काछ्डिया बीजेपी
बनासकांठा हरिभाई चौधरी बीजेपी
साबरकांठा दीपसिंह राठोड बीजेपी
पाटन लीलाधरभाई वाघेला बीजेपी
जूनागढ़ राजेश चुडासमा बीजेपी
दाहोद जशवंतसिंह भाभोर बीजेपी
बारडोली प्रभुभाई वसावा बीजेपी
सुरेंद्रनगर देवाजीभाई फतेपरा बीजेपी
जामनगर पूनमबेन मद्दम बीजेपी
पोरबंदर विठ्ठल रादडीया बीजेपी
भरूच मनसुख वसावा बीजेपी
गांधीनगर लालकृष्ण अडवाणी बीजेपी
अहमदाबाद पूर्व परेश रावल बीजेपी
अहमदाबाद पश्चिम किरीट सोलंकी बीजेपी
राजकोट मोहनभाई कुंडलिया बीजेपी
भावनगर भारतीबेन शियाल बीजेपी
कच्छ विनोद चावड़ा बीजेपी
पंचमहाल प्रभातसिंह चौहान बीजेपी
वडोदरा रंजनबेन भट्ट (नरेन्द्र मोदी के इस्तीफे के बाद) बीजेपी
छोटा उदयपुर रामसिंह राठवा बीजेपी
सूरत दर्शनाबेन जर्दोश बीजेपी
नवसारी सी आर पाटिल बीजेपी
वलसाड के सी पटेल बीजेपी
मेहसाणा जयश्रीबेन पटेल बीजेपी

इसी पेज के ऊपर हम गुजरात की सभी सिट के चुनाव रिजल्ट प्रदर्शित करेंगे २३ मई सुबह से. आप हमारी साईट को बुकमार्क करें रियल टाइम इलेक्शन रिजल्ट की अपडेट के लिए.

अपडेट:

२३ अप्रेल को तीसरें फेज में गुजरात की सभी २६ लोकसभा सीटों पर मतदान संपन्न हुआ. बीजेपी की और से इस बार के चुनावों में उतनी गर्मी नहीं दिखी जितनी पिछली बार कार्यकर्ताओं में देखी गई थी. कोंग्रेस कुछ सीटों के लिए बहुत ही आशास्पद हैं जिसमे उनकी पुरानी आनंद बैठक शामिल हैं. इसके अलावा इस बार हार्दिक फेक्टर के चलते कोंग्रेस को मेहसाणा और बनासकांठा के साथ साथ पाटन की बैठक के लिए भी बड़ी आस सी हैं. २३ मई को चुनावों के रिजल्ट में देखते हैं की वो आसा कितनी सटीक होती हैं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *